Gold ETFs grow 9.4% in Feb

15
7
SHARE

Gold ETFs grow 9.4% in Feb

Gold Silver Reports ~ Gold exchange traded funds, or ETFs, posted their highest jump in 30 months in February, growing 9.4%, or by Rs 5.76 billion, to Rs 66.72 billion, thanks to MTM gains from a rise in underlying asset values,CRISIL. Gold prices, as represented by CRISIL Gold Index, rose 12.34% in the month due to a strong domestic demand and a firm global trend. The category, however, continued to witness outflows – for the 33rd month in a row.

The mutual fund industry saw its asset pile shrink for the fourth month on the trot in February. According to latest numbers from the Association of Mutual Funds in India (AMFI), assets under management (AUM) fell 0.9%, or by Rs 108.70 billion, to Rs 12.63 trillion in February, following up on the 0.1% (Rs 11.23 billion) drop seen in January.

The decline was primarily due to sharp mark to market (MTM) losses in equity and balanced funds in keeping with the trend in the underlying securities. However, the losses were capped by inflows into equity and liquid funds and MTM gains in gold ETFs.

Equity funds see steepest fall in over four years

Equity fund AUM fell 7.7%, or by Rs 297.08 billion, to Rs 3.55 trillion. This was the highest percentage decline in over four years and followed a 5.3% drop seen in January, retreating from an all-time high of Rs 4.06 trillion logged in December. The trend was in sync with the underlying equity market, as represented by the NIFTY 50, which fell 7.6% in February after having lost 4.8% in January.

Hearteningly, investors continued to repose their trust in the asset class despite the two-month downtrend, although the quantum tapered. February saw inflows of Rs 25.22 billion in the month – marking the 22nd straight month of inflows since May 2014. ~ Neal Bhai Reports

  • अगले हफ्ते होने वाली यूएस फेडरल रिजर्व की बैठक से पहले सोने का दाम 13 महीने के ऊपरी स्तर पर पहुंच गया है। कमजोर रुपये से भी घरेलू बाजार में सोने को सपोर्ट मिल रहा है। दरअसल बाजार ये मानकर चल रहा है कि अमेरिका में फिलहाल ब्याज दरें जल्दी नहीं बढ़ेंगी। हालांकि गोल्ड ईटीएफ की होल्डिंग में थोड़ी कमी जरुर आई है, लेकिन अभी भी ये 1.5 साल के ऊपरी स्तर पर है। ऐसे में कॉमैक्स पर सोना 1270 डॉलर के आसपास कारोबार कर रहा है। चांदी भी 15.5 डॉलर के पार है। फिलहाल एमसीएक्स पर सोना 1.25 फीसदी की मजबूती के साथ 29930 रुपये के आसपास कारोबार कर रहा है। चांदी 0.5 फीसदी बढ़कर 37765 रुपये पर कारोबार कर रही है।

    • उत्पादन को लेकर ओपेक और दूसरे बड़े उत्पादक देशों में सरगर्मी बढ़ने से कच्चे तेल का दाम करीब 3 महीने के ऊपरी स्तर पर पहुंच गया है। हालांकि 40 डॉलर के पार जाने के बाद ब्रेंट क्रूड में करीब 1.5 फीसदी की गिरावट आई है। लेकिन क्रूड का दाम इस साल के रिकॉर्ड स्तर के आसपास बना हुआ है। 20 जनवरी के बाद से क्रूड करीब 50 फीसदी महंगा हो चुका है। दरअसल रूस ने उम्मीद जताई है कि 20 मार्च के बाद बड़े उत्पादक देशों के बीच बैठक हो सकती है। एमसीएक्स पर कच्चा तेल 0.5 फीसदी फिसलकर 2530 रुपये पर कारोबार कर रहा है। लेकिन एमसीएक्स पर नैचुरल गैस 0.4 फीसदी बढ़कर 116.2 रुपये के आसपास नजर आ रहा है।

      • बेस मेटल्स में गिरावट आई है, घरेलू बाजार में कॉपर समेत सभी मेटल्स करीब 0.5-2.5 फीसदी गिर गए हैं। एमसीएक्स पर कॉपर 0.8 फीसदी गिरकर 337.65 रुपये पर कारोबार कर रहा है, जबकि एल्युमिनियम में 0.1 फीसदी की मामूली बढ़त आई है। निकेल करीब 2.5 फीसदी की तेज गिरावट के साथ 612.6 रुपये के स्तर पर नजर आ रहा है। एमसीएक्स पर लेड 0.6 फीसदी गिरकर 124.6 रुपये पर कारोबार कर रहा है, जबकि जिंक 0.5 फीसदी गिरा है और ये 120.7 रुपये पर नजर आ रहा है।

        • इस बीच एग्री कमोडिटी में जोरदार तेजी आई है। वायदा में चना, सरसों, धनिया और जीरे का दाम करीब 0.5-2 फीसदी तक उछल गया है। दरअसल पिछले हफ्ते महाराष्ट्र के अलावा मध्यप्रदेश, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में बारिश हुई जिससे गेहूं, सरसों और चने की फसल पर असर की आशंका है। मध्यप्रदेश सरकार नुकसान का आंकलन में भी जुट गई है।

  • ज्वेलर्स की हड़ताल है, हाजिर बाजार बंद है लेकिन वायदा में सोने का जलवा है। सोना 30000 रुपये के पार है। दरअसल अंरराष्ट्रीय बाजार में सोना 13 महीने के ऊपरी स्तर पर है। इस बीच गोल्ड बॉन्ड का आज तीसरा चरण खुला है। इस बॉन्ड में निवेश पर सरकार ब्याज भी देगी। गौर करने वाली बात ये है कि आज सोने का मार्केट प्राइस 30000 रुपये के पार है जबकि गोल्ड बॉन्ड का इश्यू प्राइस 2684 रुपये प्रति ग्राम है। यानि सोने के मौजूदा भाव से करीब 15 फीसदी नीचे। हालांकि इसमें निवेश के बाद कम से कम 5 साल बाद ही निकासी की सुविधा है।

    • वहीं कच्चे तेल की शुरुआती गिरावट कम हो गई है। ब्रेंट 40 डॉलर के ऊपर है। पिछले डेढ़ महीने में क्रूड करीब 50 फीसदी उछल गया है। डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी बढ़ने से घरेलू बाजार में सोना और कच्चे तेल को सपोर्ट मिला है। इस बीच एग्री कमोडिटी में तेजी आई है। सरसों, चना, और मसाले 2-3 फीसदी तक उछल गए हैं।

      • हाजिर में आज दाल की कीमतों में जोरदार तेजी आई है। दिल्ली में अरहर दाल का दाम करीब 200 रुपये उछल गया है। इसका असर दूसरी दालों पर भी पड़ा है और आज वायदा में चना करीब 2.5 फीसदी की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है। दरअसल पिछले हफ्ते कई राज्यों में बारिश हुई है, ऐसे माना जा रहा है कि रबी दलहन की आवक में करीब दो हफ्ते की देरी हो सकती है।